शेयर मार्केट क्या है ? What is Stock Market ?


हम इस लेख में जानेंगे कि स्टॉक मार्केट क्या होता है, स्टॉक या ईक्विटी (EQUITY) किसे कहते हैं , STOCK MARKET कैसे काम करता है ?

आइये पहले समझते है- स्टॉक्स ,शेयर या EQUITY क्या है?

SHARE और उसके प्रकार जानने के लिए, किसी को कंपनी में शेयरों और उसकी भूमिका के बारे में बुनियादी जानकारी होनी चाहिए। शेयर निवेशकों को वितरित करके किसी व्यवसाय के लिए पूंजी जुटाने का एक साधन है।

शेयर अर्थ और प्रकार:
शेयर को स्वामित्व की एक इकाई के रूप में संदर्भित किया जाता है जो कंपनी की पूंजी के बराबर अनुपात का प्रतिनिधित्व करता है। एक शेयर शेयरधारकों को कंपनी के लाभ और हानि पर एक समान दावे का हक देता है।

उधारण के लिए जैसे – एक कंपनी की कुल पूंजी 10 लाख है, और कंपनी अपनी 10 लाख की पूंजी को, 1 हज़ार के अलग-अलग, बराबर मूल्य के हिस्से में बाँट देती है, अब हर एक हिस्सा, कंपनी की पूंजी का एक सबसे छोटा हिस्सा है जिसकी कीमत अब 1000 रूपये है, पूंजी के इसी छोटे भाग को ही शेयर कहा जाता है,

इस तरह कंपनी की पूंजी को शेयर में बाँट दिए जाने पर अब कंपनी की पूंजी शेयर कॅपिटल ( SHARE CAPITAL ) कहलाएगी, जो इस प्रकार से होगी –

TOTAL NUMBER OF SHARES X SHARE PRICE = SHARE CAPITAL

विभिन्न प्रकार के शेयर
प्रमुख रूप से शेयर दो तरह के होते हैं यानी इक्विटी शेयर और प्रिफरेंस शेयर। कंपनी अधिनियम 2013 की धारा 43 के अनुसार, कंपनी की शेयर पूंजी दो प्रकार की है:

वरीयता शेयर पूंजी ( PREFERENTIAL SHARES CAPITAL)
कंपनी के परिसमापन के दौरान, वरीयता शेयरों को रखने वाले शेयरधारकों को कंपनी के लेनदारों के ऋण का निपटान करने के बाद पहले भुगतान किया जाता है। इसके अलावा, वरीयता शेयरधारकों के पास कोई मतदान अधिकार नहीं है। विभिन्न प्रकार के वरीयता शेयरों को संरचना, लाभांश भुगतान की प्रकृति आदि के आधार पर देखा जाता है, नीचे कुछ सामान्य प्रकार दिए गए हैं:

इक्विटी शेयर कैपिटल (EQUITY SHARES CAPITAL)
इक्विटी शेयरों को साधारण शेयरों के रूप में भी जाना जाता है। इक्विटी शेयर सबसे आम प्रकार के शेयर में से एक हैं। ये मूल्य में समान हैं और शेयरधारकों को मतदान के अधिकार, लाभांश आदि जैसे विभिन्न अधिकार भी प्रदान करते हैं। इन शेयरों का स्टॉक एक्सचेंज में कारोबार किया जाता है और अंकित मूल्य पर जारी किया जाता है।

किसी कंपनी द्वारा शेयर क्यों जारी किए जाते हैं?

शेयर बाजार में शेयर जारी करना निम्नलिखित लाभ प्रदान कर सकता है:

  • नया पैसा जुटाने के लिए
  • कंपनी के लिए बाजार का मूल्यांकन
  • एक निवेशक के लिए शेयरों के व्यापार के लिए एक मौका
शेयर मार्केट के GOLDEN RULES

शेयरों में निवेश क्यों?
जब कोई निवेशक शेयर बाजार में पैसा लगाता है, तो उसमें बचत खाते में पैसा रखने की बजाय बढ़ने की क्षमता होती है। दो तरीके हैं जिनके माध्यम से आप शेयरों से पैसा कमा सकते हैं यानी पूंजीगत लाभ ( CAPITAL GAIN )और लाभ (DIVIDENDS ).

SHARE – कंपनी की पूंजी का एक हिस्स्सा
अब आप समझ गए की शेर का अर्थ है, कंपनी की पूंजी का एक भाग , यानी जब भी आप शेर खरीदते है, और पैसे चुकाते है, तो आप SHARES खरीद कर उस कंपनी को ख़रीदे गए SHARE के मूल्य के बराबर पूंजी दे रहे है,

और बिज़्नेस में पूंजी लगाने वाला बिज़्नेस का मालिक होता है,इस तरह आपके पास किसी कंपनी के जितने शेयर होते है, आप उन शेर्स की कीमत के बराबर ,उस कंपनी में मालिक बन जाते है,

जैसे – अगर आपके पास एबीसी कंपनी के 100 शेयर है और एक शेयर की कीमत अगर 500 रूपये है तो इसका अर्थ है की आपने एबीसी कंपनी को 50 हज़ार रुपये पूंजी के रूप में दिया हुआ है, और इस 50 हजार रूपये के ऊपर होने वाले लाभ और हानी में आप हिस्सेदार है,
यानी आप 50 हजार रूपये के बराबर एबीसी कंपनी में मालिक है.

शेयर से लाभ –
आइये ये भी जाने की शेयर खरीदने और बेचने से किस तरह लाभ कमाया जाता है-

आप STOCK MARKET मे धन का निर्माण (WEALTH CREATION) दो प्रकार से कर सकते हैं , वे है समय – समय घोषित लाभांश (DIVIDEND) कमाना, और स्टॉक्स को बढ़ी कीमतों पर बेच कर लाभ कमाना यांनी VALUE GROWTH INCOME.

लाभांश – DIVIDENDS

बिज़्नेस में लाभ की स्थिति मे मॅनेज्मेंट समय समय लाभांश घोषित करती है जो आपके शेयर के फेस वॅल्यू पर दिया जाता . इस तरह आप कंपनी के स्टॉक्स में इनवेस्ट करके आप DIVIDENDS के रूप में इनकम कम सकते है.

शेयर वॅल्यू ग्रोत – SHARE VALUE GROWTH
अगर कंपनी के FUNDAMENTALS मजबूत हैं और लगातार लाभ कमा रही है तो इस से कंपनी की कुल मूल्य बढ़ जाती है और इस तरह उस के पूंजी बढ़ने से शेयर की कीमत भी बढ़ जाती है और इसके विपरीत हानि की स्थिति में आपके शेयर्स की कीमत भी कम हो जाती है. शेयर को HIGH PRICE पर बेच कर आप शेर वॅल्यू बढ़ने से PROFITS कमा सकते है.

आइये अब देखते है-

SHARE MARKET या स्टॉक मार्केट क्या है? What is Stock Market ?

आसान शब्दों मे ये एक ऐसा बाजार हैं, जहां शेयरों के मौजूदा मालिक संभावित खरीदारों के साथ लेनदेन कर सकते हैं। यह समझना महत्वपूर्ण है कि शेयर बाजारों में सूचीबद्ध निगम या कंपनीज़ नियमित आधार पर अपने स्वयं के शेयर नहीं खरीदते और बेचते हैं। इसलिए जब आप शेयर बाजार में शेयर का हिस्सा खरीदते हैं, तो आप इसे कंपनी से नहीं खरीद रहे होते हैं, आप इसे किसी अन्य मौजूदा शेयरधारक से खरीद रहे होते हैं। इसी तरह, जब आप अपने शेयर बेचते हैं (SELLER) , तो आप उन्हें कंपनी को वापस नहीं बेचते हैं – बल्कि आप उन्हें किसी अन्य निवेशक (BUYER) को बेचते हैं।
शेयर मार्केट में सौदे करने वाला प्रतिभागी एक छोटे से छोटा आम निवेशक और बड़े से बड़े म्यूचुयल फंड्स, FIIs, और DIIs कम्पनी या कोई भी और कही से भी हो सकता हैं।
कोई भी शेयर बाइ या सेल के ऑर्डर्स एक सिस्टम दारा स्टॉक एक्सचेंज ( STOCKS EXCHANGE) को देते हैं, और स्टॉक मार्केट BUY या SELL के ऑर्डर्स को पूरा कर देता है।
आधुनिक शेयर बाजारों के आगमन ने विनियमन और पेशेवरकरण के युग की शुरुआत की जो अब खरीदारों और शेयरों के विक्रेताओं को यह सुनिश्चित करता है कि उनका TRADE उचित कीमतों पर और उचित समय के भीतर हो जाएगा।

भारतीय शेयर बाजार, (INDIAN STOCKS EXCHANGE )
मुख्य रूप से दो बड़े शेयर बाजारों, बीएसई (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) और एनएसई (नेशनल स्टॉक एक्सचेंज) पर कार्य करता है।

आप अपने ऑनलाइन बैंकिंग और किसी भी स्टॉक ब्रोकर के पास एक TRADING और DEMAT ACCOUNT की मदद से दुनिया के किसी भी कोने से आप बैठ कर शेयर खरीद और बेच सकते है I

Before investing in STOCK MARKET | निवेश करने से पहले जानने योग्य बातें

शेयर कैसे खरीदें?
शेयरों को खरीदने के लिए आपको DEMAT ACCOUNT रखना होता है, जो एक ऐसा खाता है जो आपके शेयरों और प्रतिभूतियों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में रखता है। DEMAT ACCOUNT आपके SAVING BANK ACCOUNT से लिंक होता है . SHARES से होने वाला मुनाफ़ा आपके DEMAT ACCOUNT मे आता है जिसे आप अपने BANK ACCOUNT मे ट्रान्स्फर कर सकते हैं. खाता खोलने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:

पैन कार्ड
ई-आधार
रद्द किया गया चेक

आप इस वेबसाइट ब्लॉग को SUBSCRIBE जरुर करें, ताकि आपको नए UPDATES मिलते रहे,

हमारे साथ जुड़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद.

Leave a Reply

%d bloggers like this: